अटल पेंशन के तहत बजट में पेंशन लिमिट को 10,000 रुपये करने का ऐलान संभव, बढ़ सकती है उम्र सीमा

Budget 2022 APY: अटल पेंशन योजना से जुड़ने वालों को बड़ी सौगात बजट में मोदी सरकार दे सकती है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जब एक फरवरी 2022 को जब बजट पेश करेंगी तो अटल पेंशन योजना के दी जाने वाले अधिकत्तम पेंशन सीमा को मौजूदा 5,000 से बढ़ाकर 10,000 रुपये करने का ऐलान किया जा सकता है.

10,000 रुपये पेंशन संभव
दरअसल पीएफआरडीए  (Pension Fund Regulatory and Development Authority) बहुत लंबे समय से सरकार से पेंशन लिमिट बढ़ाने की सरकार से मांग करता आया है. पीएफआरडीए ने अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन लिमिट को 5,000 रुपये से बढ़ाकर 10,000 रुपये पेंशन लिमिट का प्रस्ताव दे चुका है. फिलहाल अटल पेंशन योजना के साथ 3.60 करोड़ से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं लेकिन पेंशन लिमिट बढ़ाई जाती है तो और ज्यादा लोग योजना से जुड़ सकते हैं. कई लोग 5,000 रुपये पेंशन लिमिट होने के चलते योजना से नहीं जुड़ रहे हैं क्योंकि ये रकम उन्हें कम लगती है. क्योंकि जब से 60 साल के हो जायेंगे 5,000 रुपये बेहद कम होंगे वित्तीय जरुरतों को पूरा करने के लिए. 

बढ़ सकती है अधिकत्तम उम्र सीमा
इतना ही नहीं अटल पेंशन योजना के साथ जुड़ने की उम्र सीमा फिलहाल 18 से 40 साल है. लेकिन पीएफआरडीए ने सरकार को उम्र की अधिकत्तम सीमा को भी बढ़ाने का सुझाव दिया है जिसपर बजट में घोषणा की जा सकती है. अगर सरकार उम्र सीमा बढ़ाती है और साथ में पेंशन लिमिट भी तो और पति पत्नी साथ में योजना के साथ जुड़े तो उन्हें महीने में 20,000 रुपये तक पेंशन मिल सकता है. लेकिन ये निर्भर करेगा पीएफआरडीए के सुझावों पर सरकार के बजट में लिए गए फैसले पर. 

मोदी सरकार लाई थी योजना 
आपको बता दें मोदी सरकार 2015 में अटल पेंशन योजना लेकर आई थी. जिसमें 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये पेंशन 60 साल की उम्र के बाद मिलेगा. पेंशन के पांच स्लैब हैं. दरअसल जब देश में सोशल सिक्योरिटी का अभाव है तो स्कीम में इन बदलाव के जरिए सरकार सोशल सिक्योरिटी सुनिश्चित कर सकती है. 

[ad_2]

Source

Leave a Comment

Your email address will not be published.