म्यूचुअल फंड रिटर्न: Mutual Fund का गोल्डन नियम आपको करोड़पति बनने में मदद कर सकता है.

म्यूचुअल फंड से करोड़ पति कैसे बने?

म्यूचुअल फंड ने समय के साथ अपनी स्थिरता और रिटर्न के कारण बहुत लोकप्रियता हासिल की है. कोरोना के कारण म्यूचुअल फंड में निवेशकों की संख्या तेजी से बढ़ रही है और म्यूचुअल फंड से तगड़ी कमाई कर रहे है. अपनी पूंजी को विभिन्न प्रकार की प्रतिभूतियों में निवेश करने से आपकी संपत्ति में विविधता आ सकती है और अपेक्षाकृत उच्च तरलता उत्पन्न हो सकती है. नतीजतन, म्यूचुअल फंड उन लोगों के लिए एक पसंदीदा विकल्प है जो समय के साथ उच्च रिटर्न की तलाश में छोटी मात्रा में निवेश करना चाहते हैं.

Mutual Fund return: अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश करके 1 करोड़ रुपये जमा करना चाहते हैं, तो लंबी अवधि में आपको करोड़पति बनने में मदद करने के लिए एक आसान नियम है. 15-15-15 म्यूचुअल फंड निवेश नियम आपकी इस इच्छा को पूरा करने में मदद करता है. ये नियम आपको बताता है कि करोडपति बनने के लिए आपको हर महीने कितनी बचत करनी है, कितने समय के लिए निवेश करना है और कितने ग्रोथ या रिटर्न पर करना है.

शेयर बाजार स्वभाव से अस्थिर होते हैं लेकिन लंबी अवधि में वे ऊपर की ओर बढ़ते हैं जैसा कि अतीत में देखा गया है. इक्विटी बाजार में हर साल करीब 15 फीसदी का रिटर्न देना संभव नहीं हो सकता है लेकिन लंबी अवधि में करीब 15 फीसदी का सालाना रिटर्न हासिल किया जा सकता है. कुछ नियम और पैटर्न हैं जो म्यूचुअल फंड में आपके निवेश पर आकर्षक रिटर्न प्राप्त करने में आपकी मदद करते हैं, और यह लेख सभी प्रकार के निवेशकों और निवेशों के लिए उपलब्ध सबसे अधिक मांग वाले नियमों के बारे में बात करता है. इस नियम को ’15*15*15 नियम’ कहा जाता है. आइए समझते हैं कि यह नियम कैसे काम करता है.

Mutual Fund 15 * 15 * 15 rule 15-15-15 निवेश का नियम
एस नियम में ’15’ का प्रयोग तीन बार वृद्धि दर, अवधि और बचत की मासिक राशि को दर्शाने के लिए किया गया है. आपको 1 करोड़ रुपये के कोष पर पहुंचने के लिए हर महीने 15000 रुपये बचाने की जरूरत है यह मानते हुए कि आप 15 वर्षों (180 महीने) में  15 प्रतिशत वार्षिक रिटर्न करने में सक्षम हैं,

म्यूचुअल फंड रिटर्न 15x15x15 rule in mutual funds

दूसरे शब्दों में म्यूचुअल फंड नियम 15 * 15 * 15 के अनुसार 

“15 वर्ष तक हर महीने 15 हजार रूपये SIP (एसआईपी-सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान) के जरिये म्यूचुअल फंड में निवेश करना है. यहाँ पर ये माना गया है कि आपको हर साल 15 % का रिटर्न मिलता है. तब आपको 15 साल बाद कुल राशि 1,01,52,946 रूपये होगी.”

  • अनुमानित कोष – रु. 1 करोड़
  • निवेश की गई राशि – रु. 27 लाख (15 वर्षों में)
  • लाभ की राशि – रु 73 लाख
  • अनुमानित रिटर्न – ₹74,52,946
  • कुल फाइनल राशि – 1,01,52,946 रूपये

ये नियम आपको लंबी अवधि के लिए बचत शुरू करने के लिए एक शुरुआत देने का एक अच्छा तरीका है.

15 * 15 * 15 नियम कैसे काम करता है?
15-15-15 म्युचुअल फंड नियम दो प्रमुख बातों को ध्यान में रखता है – एक, निवेश का एसआईपी मोड और दूसरा कंपाउंडिंग जो निवेशक के लाभ के लिए काम करता है. 15*15*15 नियम का आधार कंपाउंडिंग है. आपको हर साल जो रिटर्न मिलता है वो फिर से अगले साल में जुड़कर आपको रिटर्न देता रहता है.  15-15-15 म्यूचुअल फंड निवेश नियम का पालन करके, आप बचत की आदत पैदा करते हैं. यह अस्थिरता को नियंत्रण में रखने में मदद करता है क्योंकि इकाइयां एसआईपी के माध्यम से खरीदी जाती हैं. एक ही एसआईपी फोलियो में और अधिक फंड जोड़ सकते हैं जब बाजार में बड़ी गिरावट आती है.

15*15*15 नियम एक लम्बे समय का निवेश है जिसमें न केवल धन बल्कि समय की आवश्यकता होती है. इसलिए आपको इस नियम से चमत्कार की उम्मीद नहीं करनी है. बल्कि आपको धैर्य और विवेकपूर्ण होने की आवश्यकता है.

मोबाइल से म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट कैसे करेऔर इन्वेस्ट करने से पहले किन बातो का ध्यान रखे?

Leave a Comment

Your email address will not be published.