हर बैंक में FD का ब्याज अलग-अलग, जानिए 1, 3 या 5 साल के लिए कहां मिलेगा सबसे ज्यादा रिटर्न

Highlights

  • कई बैंकों ने हाल के दिनों में एफडी पर ब्याज दर को बढ़ाया
  • अगर आप एफडी में निवेश करना चाहते हैं तो पहले रिसर्च करें
  • आप समय अवधि के अनुसार बैंक का चुनाव ज्यादा ब्याज के लिए कर सकते हैं

नई दिल्ली। बैंकों द्वारा सावधि जमा (FD) पर ब्याज दर में बढ़ोतरी से निवेशकों का रुझान एक बार फिर से एफडी में बढ़ा है। ऐसे में अगर आप भी एफडी कराने की सोच रहे हैं और यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि अधिक रिटर्न के लिए किस बैंक का चुनाव करना बेहतर होगा तो हम आपको उन बैंकों का नाम बता रहे हैं। आप निवेश की समय अवधि के अनुसार ज्यादा रिटर्न के लिए बैंक का चुनाव कर सकते हैं।

1 साल के लिए ये बैंक रे रहे सबसे ज्यादा रिटर्न 

बैंक      ब्याज दर  (सलाना)    वरिष्ठ नागरिक के लिए दर 
ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक  6.50%  7.00%
उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक 6.75% 7.25%
एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस  5.50%  5.75%
पंजाब एंड सिंध बैंक  5.15% 5.65%

2 साल के लिए ये बैंक रे रहे सबसे ज्यादा रिटर्न 

बैंक      ब्याज दर  (सलाना)    वरिष्ठ नागरिक के लिए दर 
फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक  6.25%  6.75%
सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक 6.75% 7.25%
एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस  5.50%  5.75%
पंजाब एंड सिंध बैंक  5.15% 5.65%

 

उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक  6.75%  7.25%
आईडीएफसी बैंक  5.10%  5.60%

3 साल के लिए ये बैंक रे रहे सबसे ज्यादा रिटर्न

बैंक      ब्याज दर  (सलाना)    वरिष्ठ नागरिक के लिए दर 
फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक 6.30% 6.80%
महिंद्रा फाइनेंस  6.30% 6.55%
सुंदरम फाइनेंस  6.25%  6.75%
यस बैंक 6.50%  7.00%
 
केनरा बैंक 5.25%  5.75%
पंजाब एंड सिंध बैंक  5.30% 5.80%
 

स्रोत: बैंकबाजार.कॉम

5 साल के लिए ये बैंक रे रहे सबसे ज्यादा रिटर्न 

बैंक      ब्याज दर  (सलाना)    वरिष्ठ नागरिक के लिए दर 
बजाज फिनसर्व  6.80% 7.05%
जना स्मॉल फाइनेंस बैंक 6.75% 7.55%
पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस   6.70%  6.95%
इंडिया पोस्ट 6.70%    6.70%
 
उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक 6.25% 6.75%
एसबीआई  5.40%   6.20%
 

   स्रोत: माईलोनकेयर

बैंक का चुनाव वित्तीय मजबूती देखकर करें 

बैंकिंग विशेषज्ञों का कहना है कि अधिक ब्याज के लालच में किसी भी बैंक, एनबीएफसी या स्मॉल फाइनेंस बैंक में निवेश करना सही नहीं होता है। किसी भी बैंक का चुनाव उसके वित्तीय साख को देखते हुए करें। इससे बाद में पछताना नहीं होगा।

ये भी पढ़े 

[ad_2]

Source

Leave a Comment

Your email address will not be published.