बिटकॉइन की प्राइस गिरने पर या क्रिप्टो करेंसी मार्केट क्रैश होने पर क्या करे?

यदि कोई एक शब्द है जो बिटकॉइन और क्रिप्टो करेंसी का सबसे सही वर्णन करता है, तो वो शब्दअस्थिर (volatile) है । जैसे ही अफवाहें, भावनाए (sentiment)  बाजार में आ जाते हैं तो क्रिप्टो की कीमतें चढ़ती हैं और फिर लगभग उतनी ही तेजी से गिरने लगती हैं।

उदाहरण के लिए, बिटकॉइन अप्रैल 2021 में आसमान छू रहा था, जो $ 64,000 से अधिक के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया। लेकिन सिर्फ तीन महीने बाद क्रिप्टो करेंसी ने अपने आधे से ज्यादा मूल्य खो दिया था, जो कि 30,000 डॉलर से कम हो गया था। फिर नवंबर 2021 में, बिटकॉइन एक बार फिर रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया, लगभग $69,000, लेकिन जनवरी के अंत तक यह 40% से अधिक गिर गया था।

यह अस्थिरता उन व्यापारियों को आकर्षित करती है जो लाभ कमाने की तलाश में हैं, खासकर नए निवेशकों के लिए जो शुरुआत करना चाहते हैं । और व्यापारी भविष्य में इस अस्थिरता के बहुत अधिक होने की उम्मीद करते हैं, क्योंकि नई क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में आती है जबकि अन्य मार्केट ट्रेंड से बाहर हो जाते हैं।

क्रिप्टो करेंसी का नाम पहली बार सुनने वाले ये पढ़े क्रिप्टो करेंसी क्या है? क्रिप्टो करेंसी और वास्तविक करेंसी जैसे रूपये में क्या अंतर है?

अगर आपने कभी क्रिप्टो मार्केट में पैसा लगाया है तो आपने जरुर क्रिप्टो करेंसी मार्केट के ऊपर नीचे होने का अनुभव किया होगा। और हो सकता है आपने सही निर्णय लिया हो या फिर आपने नुकसान उठाया हो। दूसरी तरफ अगर आप  नए क्रिप्टो निवेशक है तो आपको मार्केट क्रैश से सावधान रहने की जरुरत है। क्योंकि मार्केट का गिरना ही आपको ऊपर उठाना सिखाएगा जिससे आप ज्यादा प्रॉफिट कमा पायेंगे।

आज हम यही जानेंगे कि क्रिप्टो करेंसी में इतनी वोलाटिलिटी (अस्थिर) के साथ, निवेशकों को अपने जोखिम का प्रबंधन करने के लिए क्या करना चाहिए?

जब क्रिप्टोकरेंसी में गिरावट आती है तब इन 5 बातों पर ध्यान दे

यहां पांच बाते बताई गयी हैं जो आपको क्रिप्टो करेंसी की कीमतों में गिरावटआने पर करने की ज़रूरत है। ताकि आप बड़े नुकसान से बच सके।

1: शांत रहे (Stay calm)

जब भी क्रिप्टो मार्केट क्रैश होता है तो ज्यादातर लोग सेल करने लगते है। और कुछ लोग खरीदने लगते है। आप अपनी क्रिप्टोकरेंसी को बेचने का फैसला करें या अधिक खरीदने के अवसर में रहे, आपको एक शांत दिमाग के साथ कार्य करने की आवश्यकता है। भावनात्मक निर्णय लेना, विशेष रूप से व्यापार करते समय, शायद ही कभी कुछ अच्छा होता है। इसलिए इससे पहले कि आप घबराहट में बाजार में उतरें, आप इस बात पर विचार करना चाहेंगे कि आप पहली जगह में क्रिप्टो का व्यापार क्यों कर रहे हैं।

  • क्या आप लंबी अवधि के लिए निवेश कर रहे हैं?
  • या आप यहां शॉर्ट-टर्म ट्रेडिंग पर जल्दी पैसा कमाने के लिए हैं?

इन सवालों के जवाब आपको सही निर्णय लेने में मदद कर सकते हैं। किसी भी मामले में, आप अपने लक्ष्यों के अनुसार कार्य करना चाहेंगे। दूसरे शब्दों में, यदि आप दीर्घकालिक अवसर में विश्वास करते हैं, तो उस मानसिकता से सोचें। यदि आप यहां एक त्वरित व्यापार के लिए हैं, तो उस मानसिकता के साथ सोचें।

2: स्थिति का आकलन करें (Assess the situation)

क्या बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टो के व्यापारिक मूल्य को चलाने वाली खबरें हैं? यह संभव है कि कोई मौलिक समाचार हो जिसने बाजार की भावना को स्थानांतरित कर दिया हो और यह केवल मूल्य कार्रवाई या अफवाह चलाने वाली भावना नहीं है। जैसे एलोन मस्क ने जब कहा कि वो बिट कॉइन में पेमेंट लेंगे तब बिट कॉइन की प्राइस बहुत तेजी से बढ़ गयी थी।

वित्तीय संस्थानों को क्रिप्टो-संबंधित सेवाएं प्रदान करने से प्रतिबंधित करने का चीन का कदम एक और दबदबा था, क्योंकि देश ने 2017 में क्रिप्टो एक्सचेंजों पर पहले ही प्रतिबंध लगा दिया था, हालांकि इसने व्यक्तियों को क्रिप्टोकरेंसी के मालिक होने से प्रतिबंधित नहीं किया था। फिर 2021 के अंत में फेडरल रिजर्व ने वित्तीय प्रणाली में तरलता को कम करने का फैसला किया , और तब से कई क्रिप्टो में महत्वपूर्ण गिरावट आई है। इसलिए ये कदम तेजी से बढ़ते बाजार के लिए और भी महत्वपूर्ण आघात हैं, जो महत्वपूर्ण पूंजी प्रवाह का आनंद ले रहे थे।

क्रिप्टो कॉइन और टोकन में क्या अंतर है?

3: याद रखें कि अस्थिरता खेल का नाम है

क्रिप्टो करेंसी का स्वभाव हीअस्थिर है। क्योंकि क्रिप्टो कोई नकदी प्रवाह उत्पन्न नहीं करता है, व्यापारियों को कीमतों को चलाने के लिए भावनाओं में बदलाव पर भरोसा करना पड़ता है। इसका मतलब है कि बाजार रबी आशावाद के बीच झूल सकता है, जैसा कि उसने 2021 की शुरुआत में निराशावादी निराशा में किया था, जैसा कि कुछ महीनों बाद हुआ था। 2021 में कॉइनबेस आईपीओ के आसपास के हंगामे ने क्रिप्टो को सकारात्मक भावना को चलाने में मदद की, जबकि मौद्रिक प्रोत्साहन में कमी ने 2021 के अंत और 2022 की शुरुआत में क्रिप्टो प्राइस में भारी कमी हुई।

इसलिए जब आपके पास ऐसी संपत्ति हो जो भावनाओं से प्रेरित हो, तो आपको यह महसूस करना होगा कि व्यापारियों की भावनाएं बाजार को प्रेरित करती हैं।

यह अस्थिरता ठीक वही है जो पेशेवर व्यापारियों को आकर्षित करती है। व्यापारियों को अस्थिरता पसंद है क्योंकि यह उन्हें पैसा बनाने का मौका देता है।

4: याद रखे क्रिप्टो क्रैश होता है (Crypto crashes happen)

पहली बार जब आप क्रिप्टो क्रैश का अनुभव करते हैं, तो यह चौंकाने वाला हो सकता है। इस तथ्य को ध्यान में रखें कि कीमतों में ये गिरावट पहले भी हो चुकी है, भविष्य में भी गिरावट जारी रहेगी लेकिन आप अपनी नजरें लंबी अवधि की संभावनाओं पर रखें।

चाहे वह शेयर बाजार हो या क्रिप्टो बाजार, हमेशा मंदी रहेगी। और ये मंदी क्रिप्टो करेंसी के साथ बार बार आएगी, क्योंकि यह एक अस्थिर और उच्च जोखिम वाला निवेश है। इसका दूसरा पहलू अविश्वसनीय लाभ है जो कुछ क्रिप्टोकरेंसी ने उत्पन्न किया है।

लेकिन जोखिम का उच्च स्तर इसलिए यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि यह आपके पोर्टफोलियो के केवल एक छोटे से हिस्से का प्रतिनिधित्व करता है, और यह कि आप केवल उस पैसे का निवेश करते हैं जिसे आप खो सकते हैं। बिटकॉइन लॉन्च होने के बाद से कई बार मूल्य में आधा हो गया है – लेकिन इसकी स्थापना के बाद से लगभग हर साल इसका मूल्य भी प्राप्त हुआ है।

Digital Rupee: डिजिटल रुपया क्या है? Digital Rupee कब लांच होगा और इसके क्या फायदे है?

5: योजना बनाये (Make a plan) 

अब जब आपने पूरी तरह से मूल्यांकन कर लिया है कि बाजार में क्या हो रहा है तो आप यह तय करने के लिए बेहतर स्थिति में हैं कि आगे क्या करना है। ध्यान रखें कि एक खरीद और पकड़ निवेश रणनीति (buy-and-hold investment strategy) अक्सर दीर्घकालिक धन बनाने का सबसे अच्छा तरीका है।
हालाँकि, ऐसा हो सकता है कि क्रिप्टो मार्केट क्रैश के बाद आपने क्रिप्टो में विश्वास खो दिया है और आपको नहीं लगता कि यह एक अच्छा दीर्घकालिक दांव है। या शायद इस नवीनतम मूल्य गिरावट ने आपको बहुत सारी रातों की नींद हराम कर दी है और आपको अवगत करा दिया है कि अस्थिर क्रिप्टो निवेश आपके लिए नहीं हैं। यदि ऐसा है, तो हो सकता है कि आप अपनी स्थिति से बाहर निकलने के सर्वोत्तम तरीके के बारे में सोचना चाहें। लेकिन यह हल्के में लेने का निर्णय नहीं है और आमतौर पर इसे नहीं बेचना सबसे अच्छा है, जबकि कीमतें छह महीने के न्यूनतम स्तर पर है।  इसके बजाय, आपको मार्केट के ऊपर जाने का और फिर बेचने की प्रतीक्षा करने पर विचार करना चाहिए। यहाँ आप किसी वित्तीय सलाहकार से बात भी कर सकते हैं।

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने से पहले आपको क्या जान लेना चाहिए?

क्रिप्टो करेंसी के विकल्प

क्रिप्टो करेंसी अत्यधिक अस्थिर और सट्टा है, और कई निवेशक उनमें अधिक, यदि कोई हो, पैसा लगाने में सहज महसूस नहीं करते हैं। निवेशकों के लिए अच्छी खबर यह है कि उनके पास क्रिप्टो करेंसी के विकल्प हैं जो आकर्षक दीर्घकालिक रिटर्न प्रदान करते हैं:

  • शेयर मार्केटयदि आप विश्लेषण करने के इच्छुक हैं और आपको शेयर मार्केट में रूचि है तो आप खुद से निवेश करके अच्छा रिटर्न कमा सकते हैं। शेयर मार्केट में क्रिप्टो मार्केट से कम जोखिम होता है।
  • म्यूचुअल फंड यदि आपके पास शेयर मार्केट को समझने का समय नहीं है या फिर आपको समझ नहीं आता है कि किस कंपनी में निवेश करे तो आप म्यूचुअल फंड से शुरुआत कर सकते है। म्यूचुअल फंड में शेयर मार्केट से कम जोखिम होता है।
  • पोस्ट ऑफिस स्कीम, मंथली इनकम स्कीम, एल आई सी निवेश

निष्कर्ष 

क्रिप्टो विशेषज्ञों का सुझाव है कि एक ही बार में बड़ी मात्रा में क्रिप्टोकरेंसी खरीदने से बचें। इसके बजाय, “हर महीने क्रिप्टो का छोटा हिस्सा  ही खरीदें और फिर इसे करते रहें, क्योंकि कीमत बढ़ जाती है या कीमत कम हो जाती है, और ये SIP के तरह औसत रिटर्न देता है। जिससे आपको नुकसान होने की सम्भावना बहुत कम हो जाती है। क्रिप्टो करेंसी में आप 1 कॉइन का थोडा हिस्सा भी खरीद सकते है. आपको पूरा कॉइन खरीदने की जरुरत नहीं है.

दोस्तों अगर आप क्रिप्टो में निवेश करना कि सोच रहे है तो एक बार ये पोस्ट जरुर पढ़े। क्रिप्टो करेंसी कब खरीदे और कब बेचे-क्रिप्टो करेंसी खरीदने का सही समय क्या है? ये पोस्ट पढ़कर आपको समझ आ जायेगा कि क्रिप्टो में निवेश करने का सही समय क्या है। और एक बात हमेशा याद रखे चाहे क्रिप्टो करेंसी हो या शेयर मार्केट पैसा उतना ही निवेश करे जितना आप खोने की हिम्मत रखते है।

क्रिप्टो करेंसी : PUBLIC KEY AND PRIVATE KEY क्या होते है?

 

Disclaimer: सभी निवेशकों को सलाह दी जाती है कि वे निवेश का निर्णय लेने से पहले निवेश रणनीतियों में अपना शोध करें। इस पोस्ट में साझा की गई राय वित्तीय सलाह नहीं है। क्रिप्टो करेंसी बहुत ही अस्थिर (volatile) होती है। इनकी प्राइस बहुत तेजी से ऊपर नीचे होती है। इसलिए सोच समझकर या क्रिप्टो एक्सपर्ट से सलाह लेकर निवेश करने के बारे मे सोचे। 

Leave a Comment

Your email address will not be published.